ALL Political Crime Features National International Bollywood Sports Regional Religious Other
शब-ऐ-बरात के अवसर पर कब्रिस्तानो के ताले व मस्जिदे बंद रही।
April 10, 2020 •    ।अशफाक कायमखानी।


जयपुर।
              शबेबरात के अवसर पर रातभर मस्जिदो मे बैठकर इबादत करने व कब्रिस्तान जाकर मरहूमीन के हक मे दुवाऐ करने का चलन पाया जाने के बावजूद कोराना वायरस के बरसते कहर व लोकडाऊन की पूरी तरह पालना करने के लिये राजस्थान के सभी कब्रिस्तानो के प्रबंध कमेटियों ने ताले जड़ दिये थे। एवं लोगो ने मस्जिदों की बजाय घर पर रहकर इबादत करते हुये कोविड-19 से जल्द निजात दिलाने की दुवाऐ पाक परवरदिगार से की गई।
             राजस्थान के सभी मसलक के धार्मिक विद्वानों एवं सरकार द्वारा लोकडाऊन की पालना करने की अपील का पूरा असर नजर आया। कब्रिस्तान खामोश थे वही गली-मोहल्लों व बस्तियों से इंसान पूरी तरह दूर रहकर अपने अपने घरो मे शुकून के साथ बैठकर पाक परवरदिगार की बारगाह मे इबादत व दुवाओ के साथ रातभर ठहरे रहे।
            हालांकि अब से पहले अधिकांश मुस्लिम परिवारों मे शबेबरात के अवसर पर पकवान पकने व कब्रिस्तान जाकर मरहूमीन के हक मे दुवाऐ करने के अलावा मस्जिदों मे रहकर इबादत करने के समय काफी भीड़भाड़ होना देखा जाता था। लेकिन गुजरी रात को ना रास्तो मे ओर ना ही कब्रिस्तान एवं मस्जिदों मे भीड़ देखी गई। पुरी तरह सब जगह खामोशी ही खामोशी नजर आ रही है। लोग अपने घरो मे पकवान ना पकाकर केवल हमेशा की घर पर खाना बनाकर खाया ओर बचत को जरुरतमंदों को तकसीम करके भाईचारे व दुख-तकलीफ मे एक दूसरे के साथ खड़ा होने का संदेश दिया।