ALL Political Crime Features National International Bollywood Sports Regional Religious Other
राजस्थान में कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित भीलवाड़ा शहर में प्रशासन आगामी 3 अप्रेल से 10 दिन तक के लिए महा-कर्फ्यू ।
April 1, 2020 • ।अशफाक कायमखानी।

जयपुर।
     ..राजस्थान में कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित भीलवाड़ा शहर में प्रशासन आगामी 3 अप्रेल से 10 दिन तक के लिए महा-कर्फ्यू लगाने जा रहा है. इसके लिए शहर को बेरकेडिंग कर पूरी तरह से ब्लॉक करने की तैयारियां शुरू कर दी गई है। इस महा-कर्फ्यू के दौरान आमजन पर और भी कई तरह की पाबंदियां लग जाएंगी। जिसमे जिला प्रशासन पूरी सख्ती के साथ काम करेगा
     भीलवाड़ा में 20 मार्च को सामने आए पहले करोना पॉजिटिव मरीज के बाद कर्फ्यू लगा दिया गया था। वह अभी तक जारी है. अब उसके 14 दिन बाद 3 अप्रैल से 13 अप्रेल तक जिला प्रशासन ने महा कर्फ्यू लगाने का निर्णय किया है. इसमें जिला प्रशासन पूरी सख्ती के साथ काम करेगा. 3 अप्रेल से लगने वाले महा-कर्फ्यू की स्थिति का जायजा लेने पुलिस महानिदेशक डॉ भूपेंद्र सिंह भी मंगलवार को भीलवाड़ा पहुंचे.
      महा-कर्फ्यू में 5 दिन में एक बार होगा राशन का वितरण
जिला कलक्टर राजेंद्र भट्ट ने बताया कि महा-कर्फ्यू के दौरान मीडिया सहित दूसरे संगठनों के कर्फ्यू पास लागू नहीं होंगे. महा-कर्फ्यू के मद्देनजर भीलवाड़ा शहर के चारों तरफ बेरिकेडिंग करवाई जा रही है. जो भी नागरिक इसे तोड़ेगा उसके खिलाफ पुलिस सख्ती से पेश आएगी. 10 दिन के इस महा-कर्फ्यू में 5 दिन में एक बार उपभोक्ता होलसेल भंडार की ओर से खाद्य सामग्री का वितरण किया जाएगा. लेकिन इस दौरान खरीदारी में सोशल डिस्टेंसिंग की पालना जरूरी होगी. जो भी व्यक्ति इसकी पालना नहीं करेगा उसे खाद्य सामग्री नहीं दी जाएगी और उसे 5 दिन फिर इंतजार करना होगा.
     श्रमिकों के लिए घर पर ही पहुंचाया जाएगा खाना
महा-कर्फ्यू की अवधि में भीलवाड़ा डेयरी घर-घर दूध सप्लाई करेगी. प्रशासन ने इसके लिए कंट्रोल रूम भी स्थापित किया है. इसमें मेडिकल इमरजेंसी में पास बनवाया जा सकेगा. फैक्ट्री श्रमिकों के लिए महा कर्फ्यू के दौरान घर-घर खाना पहुंचाया जाएगा. जिला कलेक्टर राजेंद्र भट्ट ने इन श्रमिकों के मकान मालिको से कहा है कि वे उनसे 1 महीने का किराया ना लें और ना ही मकान खाली करवाएं. मेडिकल इमरजेंसी के अलावा अन्य अत्यावश्यक कार्य होने पर जिला कलक्टर के बिना कोई भी कर्फ्यू पास जारी नहीं होगा. अगर किसी कारणवश हो भी गया तो वह मान्य नहीं होगा। पास के लिए एसडीएम अपनी अनुशंसा के साथ निर्धारित प्रारूप में प्रस्ताव भेजेंगे. पास जारी करवाने और एसडीएम ऑफिस भेजने की जिम्मेदारी सब रजिस्टार को सौंपी गई है. जिला प्रशासन ने जयपुर से भी आटा, चिप्स और अन्य खाद्य सामग्री मंगवाई है. यह सामान जयपुर की दो फर्मों ने निशुल्क भेजा है. कलक्ट्रेट के कंट्रोल रूम के फोन नंबर 0148 233030, 230031,230032, 232626 हैं. आपातकाल में इन पर संपर्क किया जा सकता है. जिला कलक्टर राजेंद्र भट्ट ने लोगों से अपील की है कि वे अपने अपने घरों से ना निकलें और करोना के खिलाफ इस लड़ाई में प्रशासन का साथ दें. उल्लेखनीय है कि भीलवाड़ा में प्रदेश में सबसे ज्यादा 26 पॉजिटिव मरीज हैं.