ALL Political Crime Features National International Bollywood Sports Regional Religious Other
खेल प्रेमी नंदकिशोर महरिया राजस्थान बेसबॉल ऐसोसिएशन के निर्विरोध अध्यक्ष बने।
June 21, 2020 • ।अशफाक कायमखानी।


सीकर।
             छात्र जीवन से लेकर अब तक लगातार खेलो को प्रोत्साहन देने व खिलाड़ियों को हर कदम पर प्रोत्साहित करने वाले स्वयं अच्छे खिलाड़ी रहे खेल प्रेमी  इंजीनियर नंदकिशोर महरिया को सीकर मे ऐसोसिएशन के राजस्थान भर से आये प्रतिनिधियों की उपस्थिति मे हुये चुनावो मे चुनाव अधिकारी सेवानिवृत्त कालेज प्रिंसिपल प्रोफेसर जवार सिहं द्वारा निर्विरोध राजस्थान बेसबाल ऐसोसिएशन का अध्यक्ष निर्वाचित घोषित करने के बाद खेल जगत मे व्यापक स्तर पर खुशी का आलम नजर आया।


              खेल जगत के जाने माने चेहरे पूर्व विधायक नंदकिशोर महरिया के साथ ही उनकी पुरी कार्यकारिणी को भी उक्त मीटिंग मे निर्विरोध चुना गया। इंजीनियरिंग की पढाई के अलावा वकालत की ड़ीग्री पा चुके फतेहपुर शेखावाटी के साबिक विधायक नंदकिशोर महरिया के खेलो को बढावा व खिलाड़ियों मे खेल के प्रति गहरी रुचि व उनमे उसके प्रति लगाव लगातार परवान चढाये रखने के साथ साथ पर्यावरण को शुद्ध बनाये रखने के पेड़-पोधे लगाकर उनकी ढंग से परवरिश करने के साथ साथ पूरे लोकडाऊन मे हजारो जरुरतमंदों को खाद्य सामग्री के किट उपलब्ध कराने से जाहिर होता है कि उनकी खेलो के अलावा खिदमत ऐ खल्क मे भी गहरी रुची दर्शाता है।


           एक शिक्षक के पूत्र नंदकिशोर महरिया का खेलो से जुड़ाव हमेशा से रहने के कारण वो हमेशा किसी ना किसी रुप मे खेलो को बढावा देने के अलावा खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने का अवसर कभी चूकते नही है। पर्यावरण को शुद्ध बनाये रखने के लिये महरिया हमेशा कुछ ना कुछ कार्य अपने स्तर पर करते रहे है। पीछले बरसात के मोसम मे अपने स्वर्गीय भाई के नाम से बनी सुधीर महरिया स्मृति संस्थान के बेनर तले सीकर शहर स्थित स्मृति वन व अन्य शैक्षणिक संस्थान एवं कब्रिस्तान-शमशान भूमि मे विभिन्न प्रकार के करीब दस हजार पोधे लगाकर उनमे रोजाना पानी डालने के साथ साथ उन्हें सर्दी-गरमी से बचाने के उपाय भी किये गये थे। इसके अलावा कोविड-19 के प्रकोप के कारण जारी लोकडाऊन मे जरुरतमंदों को लगातार पूरे लोकडाऊन मे करीब पच्चीस हजार खाद्य सामग्री के किट सुधीर महरिया स्मृति संस्थान के बेनर तले वितरित करवा कर जिले मे मिशाली खिदमात अंजाम दी है।