ALL Political Crime Features National International Bollywood Sports Regional Religious Other
झुंझुनूं के नवलगढ़ की 70 वर्षीय मां कोरोना पॉजीटिव यूरिन की बीमारी से पीड़ित महिला 17 अप्रेल की रात को सीकर के एसके अस्पताल में हुई थी भर्ती - कोरोना गंभीर संदिग्ध मानकर चिकित्सकों ने कोरोना आईसीयू में किया था भर्ती
April 21, 2020 • ।अशफाक कायमखानी।


सीकर।
     .. .          शहर के श्री कल्याण अस्पताल में भर्ती झुंझुनूं जिले के नवलगढ़ कस्बे की 70 वर्षीय  महिला कोरोना पॉजीटिव पाई गई। महिला को इलाज के लिए जयपुर एसएमएस अस्पताल में भेज दिया गया है। महिला 17 अप्रेल को रात करीब 8.30 बजे सीकर के श्री कल्याण अस्पताल में पहुंची थी। चिकित्सकों ने उसे कोरोना संदिग्ध मानते हुए कोरोना आईसीयू में भर्ती किया था।
                  मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ अजय चौधरी ने बताया कि झुंझुनूं जिले के नवलगढ़ की रहने वाली 70 वर्षीय महिला यूरिन की बीमारी से पीड़ित थी। इस पर उसके परिजनों ने 17 पहले अप्रेल को नवलगढ़ के सरकारी अस्पताल में चिकित्सक को दिखाया। इसके बाद पुनः तकलीफ होने पर महिला को परिजन 17 अप्रेल की शाम को वापस नवलगढ़ के सरकारी अस्पताल में लेकर गए। वहां से उसे सीकर रैफर कर दिया गया था। इस पर परिजन प्राइवेट एम्बुलेंस से उसे लेकर 17 अप्रेल की रात को 8.30 बजे सीकर के कल्याण अस्पताल के ट्रोमा सेंटर पहुंचे। यहां पर चिकित्सकों ने उसे संदिग्ध मानते हुए आईसीयू में भर्ती  कर दिया। 18 अप्रेल को महिला का सैम्पल लेकर जांच के लिए जयपुर भेजा गया था, जिसकी 21 अप्रेल को रिर्पोट पॉजीटिव प्राप्त हुई। महिला को तत्काल 108 एम्बुलेंस से जयपुर इलाज के लिए भेज दिया गया है।
                   सीएमएचओ डॉ चौधरी ने बताया कि चिकित्सा विभाग द्वारा महिला के सम्पर्क में आने वाले लोगों की जानकारी जुटाई गई है। महिला की पुत्रवधू का सैम्पल जांच के लिए गया गया है। वहीं महिला के साथ उसके बेटे को भी जयपुर भेजा गया है। महिला की रिपोर्ट और जिस प्राइवेट एम्बुलेंस से महिला सीकर आई थी उसके बारे में झुंझुनूं सीएमएचओ को भी अवगत कराया गया है। साथ ही झुंझुनूं के नवलगढ़ में महिला के संर्पक में आए 14 जनों को वहीं पर क्वारेनटाइन किया गया है। 
एसके अस्पताल के 3 चिकित्सक सहित 8 को किया क्वारेनटाइन
                 सीएमएचओ डॉ चौधरी ने बताया कि महिला 17 अप्रेल की रात को ट्रोना सेंटर में आई थी। उस समय उसके सम्पर्क में आए तीन चिकित्सक सहित आठ जनों को क्वारेनटाइन किया गया है। उन्होंने बताया कि चिकित्सकों, नर्सिंग कर्मियों, स्वीपर और एक ट्रोली  मैन को 14 दिन के दिन के लिए क्वारेनटाइन किया गया है। कोरोना आईसीयू में कार्यरत स्टॉफ पीपीई कीट पहनकर ड्यूटी करते है।