ALL Political Crime Features National International Bollywood Sports Regional Religious Other
बिहार में कोरोना वायरस के मामले बढ़कर 21 हुए
April 1, 2020 • रिपोर्टर्स डाइजेस्ट डेस्क

पटना, :: बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण के पांच और मामलों की पुष्टि होने के बाद प्रदेश में इससे संक्रमित लोगों की संख्या मंगलवार को बढकर 21 हो गयी जबकि इससे संक्रमित मुंगेर निवासी एक मरीज की 21 मार्च को मौत हो गयी थी।

पटना स्थित इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान के सूक्ष्म जीवविज्ञान विभाग के अध्यक्ष डा. एस के शाही ने मंगलवार शाम बताया कि सिवान जिले से आए चार कोरोना वायरस संदिग्ध मामले जांच के बाद संक्रमित पाए गए।

उन्होंने बताया कि जिन मरीजों के नमूने जांच में पॉजिटिव पाए गए हैं वे सउदी अरब से लौटे हैं, और उनकी उम्र 20 से 40 के बीच है।

शाही ने बताया कि आज इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान में कुल 36 कोरोना वायरस संदिग्ध मामलों की जांच की गई। राजेंद्र मेमोरियल रिसर्च इन्स्टीट्यूट (आरएमआरआई) के निदेशक डा. प्रदीप दास ने मंगलवार को बताया कि दुबई से लौटे गोपालगंज निवासी एक मरीज (35) तथा गया निवासी एक अन्य मरीज (25) के नमूने की जांच की गई जिसमें उसके इससे संक्रमित होने की पुष्टि हुई।

उन्होंने बताया कि आज 217 कोरोना वायरस संदिग्ध मामलों की आरएमआरआई में जांच की गई।

बिहार स्वास्थ्य सोसायटी की स्टेट सर्वेलान्स आफिसर डा. रागिनी मिश्र ने मंगलवार को बताया कि गया निवासी उक्त मरीज मुंगेर के उस निजी अस्पताल नेशनल हास्पिटल का कर्मचारी है जिसमें पूर्व में भर्ती कराए गए कोरोना वायरस संक्रमित एक मरीज की पटना एम्स में मौत हो गयी थी।

उन्होंने बताया कि नेशनल हास्पिटल का उक्त कर्मचारी वर्तमान में गया जिला स्थित अनुग्रह नारायण मेडिकल कालेज अस्पताल में भर्ती है।

गौरतलब है कि कतर से लौटे मुंगेर निवासी उक्त मरीज के संपर्क में बीते दिनों में 64 व्यक्ति आए थे जिनमें से 55 के नमूने जांच के लिए आरएमआरआई में भेजे गये थे, जिसमें से अबतक 11 कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं।

मुंगेर निवासी उक्त मरीज का वहां स्थित निजी अस्पताल नेशनल हास्पिटल में इलाज के क्रम में स्थिति बिगड़ने पर बेहतर इलाज के लिए पटना के बाईपास स्थित निजी अस्पताल श्रमण में भर्ती कराया था। बाद में उन्हें पटना एम्स में भर्ती कराया गया जहां 21 मार्च को उसकी मौत हो गयी थी।

मुंगेर निवासी इस मरीज के संपर्क में आये पटना के उक्त निजी अस्पताल के वार्ड ब्वॉय सहित दो स्टाफ 27 मार्च को और एक अन्य महिला 28 मार्च को कोरोना वायरस वायरस से संक्रमित पाये गये।

रागिनी ने बताया कि प्रदेश में अबतक तक कोरोना वायरस के 1052 संदिग्ध नमूने की जांच की जा चुकी है जिसमें से अब तक 1033 निगेटिव एवं 21 संक्रमित पाए गए हैं।

पटना स्थित एम्स से कोरोना वायरस संक्रमित पटना निवासी एक महिला रोगी 21 मार्च को भर्ती हुई । उसके 24 घंटे के भीतर दो टेस्ट निगेटिव आने पर सोमवार को अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी थी ।